Electricity 2021 में भारत में बिजली की स्थिति

More articles

Saurabh Guptahttp://karekaise.in
नई तकनीक का आविष्कार, गैजेट्स, उपभोक्ता प्रौद्योगिकी और सॉफ्टवेयर के लिए आपका स्रोत. कंप्यूटर, स्मार्टफोन, इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स और इंटरनेट सामग्री पर नवीनतम रुझानों के लिए हमारी वेबसाइट देखें!

आधुनिक काल में बिजली(electricity) का महत्वपूर्ण स्थान है। यह स्कूलों , अस्पतालों, उद्योगों (industries) आदि में विभिन्न प्रकार के उपयोगों के लिए ऊर्जा का नियंत्रित (controllable) और सुविधाजनक (convenient) रूप है।

आज के समय में बिना विद्युत के जीवन बहुत ही कठिन हो जाएगा। आप में से कई लोग अभी इसे अपने phone या computer पर पढ़ रहे होंगे और इसे बिना बिजली के चलाना नामुमकिन है। तो आप समझ सकते हैं बिजली हमारे जीवन के लिए कितनी महत्वपूर्ण है।

आज आप इस आर्टिकल में जानेंगे की विद्युत क्या है और यह किस तरह बनाई जाती है, विद्युत के स्रोत, विद्युत की महत्वता, भारत में विद्युत की स्थिति तो चलिए मैं आपको विस्तार से बताता हूं कि बिजली क्या होती है।

What is Electricity/विद्युत या बिजली क्या है

बिजली विद्युत आवेशित कल (electrically charged particle) जैसे इलेक्ट्रॉन या प्रोटॉन का प्रवाह है। यह ऊर्जा का एक रूप है। यह एक द्वितीयक ऊर्जा स्रोत (secondary energy source) है जिसका अर्थ है कि हम इसे ऊर्जा के अन्य स्रोत (source) जैसे कोयला (coal), प्राकृतिक गैस (natural gas), तेल (oil), परमाणु ऊर्जा (nuclear power) और अन्य प्राकृतिक स्रोतों के रूपांतरण (converstion) से प्राप्त करते हैं जिन्हें प्राथमिक स्रोत कहा जाता है। बिजली बनाने के लिए हम जिस ऊर्जा स्रोत का उपयोग करते हैं वह अक्षय (Renewable) और गैर-नवीकरणीय (non renewable) स्रोत हो सकता है।

Types of electricity/विद्युत के प्रकार

बिजली दो प्रकार की होती है:

1. Static electricity/स्थैतिक बिजली

2. Dynamic or current electricity/गतिशील बिजली

स्थैतिक बिजली दो या दो से अधिक वस्तुओं को आपस में रगड़ कर (on rubbing) और गतिशील होने पर घर्षण (friction) करके उत्पन्न होती है और गतिशील बिजली विद्युत क्षेत्र में विद्युत आवेश का प्रवाह है। गतिशील बिजली को एंपियर (Ampere) मैं मापा जाता है।

विद्युत धारा (current electricity) दो प्रकार की होती है:-

1. Alternating current/प्रत्यावर्ती धारा

A.C. ऐसी एक प्रकार की विद्युत धारा है जिसमें धारा की दिशा बदलती रहती है।

2. Direct current/प्रत्यक्ष धारा

D.C. एक प्रकार की विद्युत धारा है जिसमें धारा एक दिशा में लगातार प्रवाहित होती रहती है।

स्थैतिक बिजली का उदाहरण- एक गुब्बारे का उनके कपड़े तेरा करने के बाद गुब्बारे का दीवाल पर चिपकना।

विद्युत धारा या गतिशील बिजली का उदाहरण- जनरेटर (generator), विद्युत संयंत्र (power plant), बैटरी और बहुत सी रासायनिक क्रियाएं।

Importance of Electricity/बिजली का महत्व

बिजली मानव जाति को विज्ञान द्वारा दी गई सबसे महत्वपूर्ण भेंटो में से एक है। यह आधुनिक जीवन (mordern life)का एक हिस्सा भी बन गया है और इसके बिना कोई दुनिया की कल्पना नहीं कर सकता। हमारे दैनिक जीवन में बिजली के कई उपयोग हैं। परिवहन (tranportation) और संचार (communication) के आधुनिक साधनों ने इसके द्वारा क्रांति ला दी है।

इलेक्ट्रिक ट्रेन और बैटरी कार यात्रा के त्वरित (quick means) साधन है। बिजली मनोरंजन (entertainment) के साधन भी प्रदान करती है। रेडियो, टेलीविजन और सिनेमा जो मनोरंजन के सबसे लोकप्रिय रूप हैं यह बिजली के ही परिणाम है। Computer और robot जैसे आधुनिक उपकरण भी बिजली के कारण ही विकसित हुए हैं।

दवा और सर्जरी के क्षेत्र में भी बिजली एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है जैसे एक्स-रे (X-ray)और ईसीजी (ECG)। संक्षेप में, बिजली के उपयोग ने मनुष्य के जीवन को इस हद तक बदल दिया है कि अब इसके बिना जीवन लगभग अकल्पनीय है। So, इसलिए बिजली बचाना हमारा कर्तव्य है।

  चलो उठो अब फर्ज निभाएं, देश के लिए बिजली बचाएं।

Source of Electric current/विद्युत धारा के स्रोत

1. The sun / सूर्य

2. Wind / हवाएं

3. Water / जल

4. Fuel / ईंधन

5. Nuclear energy / परमाणु ऊर्जा

सभी स्रोतों का मूल सिद्धांत यांत्रिक ऊर्जा (mechanical energy) को विद्युत ऊर्जा (electrical energy) में परिवर्तित करना है।

1. The Sun / सूर्य

सूर्य ऊर्जा का असीमित स्रोत है। प्रौद्योगिकियों (technologies) सौर ऊर्जा का उपयोग करती है। सौर फोटो वोल्टिक सौर पैनल जैसे अर्धचालको (semiconductors) का उपयोग करके सूर्य के प्रकाश को प्रत्यक्ष गतिशील बिजली में परिवर्तित करते हैं जबकि दूसरा तरीका सौर तापीय बिजली उत्पादन के लिए सूर्य के प्रकाश की गर्मी का उपयोग करते हैं।

Electricity produced by solar panels
This is the image of Solar panels

2. Wind / हवाएं

हम सभी ने पवन चक्कियों (windmills) को कहीं ना कहीं किसी ना किसी तस्वीर में देखा है। इसका उपयोग बिजली उत्पादन के लिए किया जाता है। पवन चक्कियों में लगे टरबाइन में कुछ ब्लेड होते हैं, because जब हवा उन ब्लेड से गुजरती है जो यहां हवा की गतिज ऊर्जा (kinetic energy) एकत्र करती है और टरबाइन को घुमा कर यांत्रिक ऊर्जा में परिवर्तित हो जाती है और यह टरबाइन एक ड्राइव शाफ्ट की सहायता से जनरेटर से जुड़ा होता है। जब जनरेटर को सॉफ्ट के द्वारा घुमाया जाता है तब टरबाइन की यांत्रिक ऊर्जा (mechanical energy) जनरेटर द्वारा विद्युत ऊर्जा (electrical energy) में परिवर्तित हो जाता है और इस तरह हमें हवा से बिजली मिलती है।

Electricity is generated by windmills
This the image of windmills

3. Water / जल

हाइड्रोइलेक्ट्रिक पावर प्लांट में पानी से बिजली का उत्पादन होता है। इसमें हम टरबाइन टैबलेट को घुमाने के लिए पानी किस टी का उपयोग करते हैं जो कि जनरेटर से जुड़ा होता है। जब पाइप या penstock द्वारा पानी को बहाया जाता है तो टरबाइन घूमने लगता है और फिर जनरेटर द्वारा हमें बिजली प्राप्त होती है।

Electric current  is generated by hydroelectric power plants
Diagram of hydroelectric power plant

4. Fuel / ईंधन

जीवाश्म ईंधन बिजली संयंत्र (fossil fuel power plant) में ईंधन द्वारा बिजली का उत्पादन किया जाता है।इसमें पहले या तेल को गर्मी पैदा करने के लिए जलाया जाता है जिसका उपयोग भाप (steam) उत्पन्न करने के लिए किया जाता है और भाप की मदद से टरबाइन को घुमाया जाता है जो कि जनरेटर से जुड़ा होता है। इस तरह ईंधन से बिजली उत्पन्न होती है।

5. Nuclear energy / परमाणु ऊर्जा

परमाणु ऊर्जा संयंत्र (nuclear power plant) में परमाणु विखंडन (nuclear fission) बिजली का उत्पादन किया जाता है।परमाणु विखंडन एक परमाणु प्रतिक्रिया है जिसमें भारी नाभिक (heavy nucleus) अनायास (spontaneously) विभाजित हो जाते हैं ,प्रक्रिया द्वारा ऊर्जा की रिहाई होती है।इस प्रक्रिया से भाप बनाने के लिए गर्मी उत्पन्न की जाती है जो बिजली उत्पन्न करने के लिए टरबाइन को घूमाती है।

Electric current is generating in nuclear power plant
Image of nuclear power plant in India

Uses of Electric current / विद्युत धारा के उपयोग

हमारे दैनिक जीवन में बिजली के शहर में कई उपयोग है। इसका उपयोग पंखे और कई घरेलू उपकरणों (domestic appliances) को चलाने के लिए किया जाता है जैसे – स्टोव , winter season में हीटर और बहुत कुछ चलाने के लिए किया जाता है। यह यंत्र सभी लोगों को आराम प्रदान करते हैं। फैक्ट्रियों में बिजली की मदद से बड़ी-बड़ी मशीनों से काम किया जाता है। आवश्यक वस्तुएं जैसे भोजन, कपड़ा, कागज और कई अन्य चीजें बिजली के उत्पाद है।

Electricity in India / भारत में विद्युत

भारत में बिजली बनाने का पहला कारखाना 1899 में कलकत्ता में लगा था। यह पहला निजी कारखाना था और कंपनी का नाम कोलकाता इलेक्ट्रिक सप्लाई था। भारत में सबसे ज्यादा बिजली प्राइवेट कंपनी द्वारा बनाया जाता है। भारत विश्व में तीसरा देश है जिसके द्वारा सबसे ज्यादा बिजली बनाई जाती है।

Electricity in India
Electricity in India

Top electricity company              capacity

1. NTPC LTD.                              62,918 MW

2. Tata power company Ltd   10,857MW

3. Adani power limited.           12,450MW

4. Torrent power Ltd.            3,879MW

5. JSW energy Ltd.                    5,681MW

31 March 2021 के आंकड़ों के हिसाब से भारत में कुल 382151 MW बिजली बनाई गई।

Electricity production in India by source / भारत में बिजली किन स्रोतों से बनाई जाती है

1. Coal.                        2,02,665MW(51.7%)

2. Lignite                    6,620MW (1.7%)

3. Hydro.                    46,512MW (11.9%)

4. Wind&solar           1,04,031MW(26.5%)

5. Gas.                         24,900MW (6.4%)

6. Nuclear.                 6,780MW (1.7%)

7. Diesel.                     510MW (0.1%)

आप देख सकते हैं कि भारत में सबसे ज्यादा बिजली कोयले (coal) से बनाई जाती है।

Total power generation in India 2021 / भारत में कुल बिजली उत्पादन 2021

वर्ष 2021 – 22 के लिए पारंपरिक स्रोतों का बिजली उत्पादन लक्ष्य 1356 BU निर्धारित किया गया था जिसमें 1155.200 BU Thermal : 149.544 BU Hydro: 43.020BU Nuclear और 8.236BU भूटान से आयात शामिल थे।

Which state is the largest producer of electricity in India

भारत में बिजली का सबसे बड़ा उत्पादक राज्य कौन सा है?

महाराष्ट्र राज्य भारत में लगभग 44166MW बिजली का सबसे बड़ा उत्पादक है, इसके बाद गुजरात और तमिलनाडु का स्थान है।

मैं आशा करता हूं कि आप यहां जिस information के लिए आए थे वो आपको मिली होगी। इस आर्टिकल को पढ़ने के लिए धन्यवाद अगर आपको यह अच्छा लगा तो comment करें and अपने दोस्तों के साथ इसे share करें।

Latest

CLOSE ADS
CLOSE ADS